अररिया में 57, जहानाबाद में 50.1 और भभुआ में 54.3 प्रतिशत हुआ मतदान

पटना, बिहार के लोकसभा की अररिया सीट और विधानसभा की भभुआ और जहानाबाद सीटों पर रविवार को छिटपुट घटनाओं के बीच मतदान संपन्‍न हो गया। सुबह से ही बूथ पर मतदाताओं की लंबी कतारें लगी रही। तीनों जिले के जिलाधिकारी के अनुसार देर शाम तक अररिया में 57 प्रति​शत, जहानाबाद में 50.1 और भभुआ में 54.3 प्रतिशत मतदान हुआ।

अररिया जिला जन सम्पर्क अधिकारी गुप्तेश्वर कुमार ने बताया कि दिनरपतगंज में 57 प्रति​शत, रानीगंज में 57 प्रति​शत, फारबिसगंज में 56 प्रति​शत, अररिया में 59 प्रति​शत, जोकीहाट में 56 प्रति​शत, सिकटी 56 प्रति​शत फीसदी वोट डाला गया।

अररिया में मतदान के दौरान तीनों चुनावी क्षेत्र के कुछ स्थानों पर झड़प के साथ वोट बहिष्कार भी किया गया। अररिया के जोकीहाट विधानसभा के बूथ संख्या 180, 181 व 58 पर एक भी मत नहीं पड़े। यहां लोगों ने सामूहिक रूप से मतदान का बहिष्कार किया है। वहीं, जोकीहाट विधानसभा क्षेत्र के बूथ संख्या 80, 81, व 82 पर असामाजिक तत्त्वों द्वारा अशान्ति फैलाने का प्रयास किया गया। हालांकि प्रशासन की मुस्तैदी के बाद बूथ पर शांति बहाल हुई।

अररिया के कुशियार गांव के बूथ 37 और 37(ए) पर मतदान का बहिष्कार किया गया। पटेगना में एक बूथ पर मशीन खराब रही। इससे मतदान धीमी गति से हुआ। फारबिसगंज के लहसनगंज एवं हललिया में भी लोगों ने सड़क सहित विभिन्‍न मांगों को लेकर वोट बहिष्कार किया।
गौरतलब है कि राजद के मोहम्मद तस्लीमुद्दीन यहां से सांसद थे। उनके निधन से रिक्त हुई सीट पर यहां से उनके पुत्र राजद के सरफराज आलम प्रत्याशी हैं, यहां उनका मुकाबला भाजपा के प्रदीप सिंह से है।

जहानाबाद में उतरापट्‌टी गांव स्थित बूथ संख्या 94 पर दहशत फैलाने के उद्देश्य से कुछ असमाजिक तत्वों ने दोपहर को मतदान के दौरान ताबड़तोड़ दस राउंड फायरिंग की। जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष के अनुसार जहानाबाद अख्तियारपुर मतदान संख्या 6 पर सड़क की मांग को लेकर वोट बहिष्कार किया गया। सेसंम्वा के मतदान केंद्र पर ईवीएम में गड़बड़ी के कारण 45 मिनट देर से मतदान शुरू हुआ। राजद के टिकट पर जीते मुंद्रिका सिंह यादव के निधन से खाली हुई इस सीट पर जदयू के अभिराम शर्मा का मुकाबला राजद के सुदय यादव से है।

भभुआ नगर के बूथ संख्या 12, 15, 16 और 20 पर ईवीएम खराब रहने के कारण मतदान देर से शुरू हुआ। भभुआ के मीरियां गांव के ग्रामीणों ने सड़क निर्माण की मांग को लेकर वोट बहिष्कार का निर्णय लिया था, लेकिन यहां भी वोट डाला गया। भाजपा के आनंद भूषण पांडेय के निधन से खाली हुई इस विधानसभा सीट पर स्व. विधायक की पत्नी रिंकू रानी पांडेय, भाजपा का मुकाबला कांग्रेस के शंभू सिंह पटेल से है।

इस बीच बिहार कांग्रेस के कार्यकारी अध्‍यक्ष कौकब कादरी ने भभुआ में 137 ईवीएम खराब होने का आरोप लगाते हुए वहां पुनर्मतदान की मांग की है। उन्होंने कहा है कि सुबह में मतदाता उत्‍साह में थे, लेकिन ईवीएम में खराबी के कारण मतदान प्रभावित हो गया है। ईवीएम खासकर दलित-मुस्लिम इलाकों में खराब हुए हैं, इसलिए यहां पुनर्मतदान कराया जाए। हालांकि, जिलाधिकारी ने बड़े पैमाने पर ईवीएम की खराबी से इन्‍कार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *