कश्मीरी परिवारों को केंद्र सरकार से मिलेगा 5.5 लाख आर्थिक मदद

नई दिल्ली, केंद्रीय कैबिनेट की बुधवार को हुई बैठक में मोदी सरकार ने महंगाई भत्ते को पांच फीसदी बढ़ाने समेत कई अहम फैसले लिए। सरकार ने पीओके से विस्थापित होकर भारत के कई राज्यों में आकर बसे करीब 5300 कश्मीरी परिवारों को दिवाली का तोहफा दिया।

अब इन परिवारों को केंद्र की ओर से साढ़े पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी, ताकि ये कश्मीर में आकर बस सकें। इसकी मांग काफी लंबे समय से उठ रही थी।

इन 5300 परिवारों का नाम शुरुआत में विस्थापितों की लिस्ट में शामिल नहीं था। लेकिन अब केन्द्र सरकार ने फैसला लिया है कि इनका नाम लिस्ट में भी शामिल किया जाएगा और आर्थिक सहायता दी जाएगी।

बैठक के बाद सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने संवाददाताओं को बताया कि साल 2016 में प्रधानमंत्री ने पीओके के विस्थापितों के लिये 5.5 लाख रूपये प्रति परिवार के पैकेज की घोषणा की थी। लेकिन तब इसमें 5300 परिवार शामिल नहीं हो सके थे क्योंकि वे जम्मू कश्मीर से बाहर थे और उनका नाम नहीं आया था।”

उन्होंने बताया कि आज के निर्णय से 5300 परिवारों को इसमें शामिल कर लिया गया है। जावडेकर ने कहा कि इस फैसले से इन परिवारों के साथ न्याय हुआ है । इस फैसले का पूरे कश्मीर घाटी में स्वागत होगा।

उन्होंने बताया कि जम्मू कश्मीर में कई तरह के विस्थापित समूह हैं । इसके तहत एक समूह ऐसे विस्थापितों का है जो 1947 के बाद आया । दूसरा समूह ऐसे विस्थापितों का है जो जम्मू कश्मीर के विलय के बाद आया। इसमें 5300 परिवार ऐसे थे जो पीओके से आए लेकिन दूसरे राज्यों में चले गए थे।

मंत्री ने कहा कि जो फिर से जम्मू कश्मीर आ गए है, उन्हें इसमें शामिल किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *