धनबाद के झरिया कोयलांचल में धरती फटने से जमीन में समाये पिता-पुत्र

रांची/धनबाद, धनबाद के झरिया कोयलांचल में बुधवार को अचानक जोरदार आवाज के साथ धरती फट गयी। धरती फटने के बाद बने गड्ढे में आठ वर्षीय रहीम समा गया। बेटे को जमींदोज होते देख उसे बचाने दौड़े पिता बबलू खान (50) भी जमीन के अंदर समा गया। गड्ढे से लगातार गैस रिसाव जारी है। वही घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर गाडियों में तोड़फोड़ की। फिलहाल रेस्कयू ऑपरेशन चल रहा है।

जमीन फटने के बाद बना यह होल करीब छह फुट चौड़ा है और इसकी गहराई लगभग 15 फिट बताई जा रही है। जिसमें से लगातार जहरीला गैस रिसाव हो रहा है, जिससे होल के भीतर का तापमान भी काफी ज्यादा है। स्थानीय लोगों की मदद से जेसीबी मशीन द्वारा अंदर समा चुके पिता-पुत्र को निकालने की नाकाम कोशिश जारी है। घटना के बाद प्रशासन की ओर से राहत कार्य में देरी होने की वजह से स्थानीय लोगों ने जमकर बवाल किया। लोगो ने झरिया-सिंदरी मुख्य मार्ग को अवरुद्ध कर दिया। रेस्क्यू टीम की गाड़ी और एम्बुलेंस के कांच तोड़े गये। पास से गुजर रही हाइवा ट्रक और ऑटो को भी आक्रोशित लोगों ने निशाना बनाया।

मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने पिता-पुत्र के होल में जिंदा समाने की घटना की पुष्टि नहीं की है। उनका है कि अभी तक उन्हें कोई प्रत्यक्षदर्शी नहीं मिला है। जबकि घटना के बाद माहौल शांत रखने के लिए यहां भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गयी है। मीडिया से बात करते हुए धनबाद के सिटी एसपी ने बताया कि स्थिति को पूरी तरह से नियंत्रित कर लिया गया है। दो लोगों के होल में फंसे होने की जांच चल रही है। ज्ञात हो कि धनबाद का झरिया इलाका पूरी तरह से अग्नि प्रभावित क्षेत्र है। धरती के निचे मौजूद कोयले में लगी आग पिछले कई सालों से जल रही है। वहीं सरकार ने इस शहर को पूरी तरह से विस्थापित करने के लिए विस्थापन योजना भी चला रखी है।

दूसरी तरफ, पिता-पुत्र के जमींदोज होने की घटना पर धनबाद के सांसद पीएन सिंह ने कहा कि यह घटना कांग्रेस की देन है। झरिया की जनता कांग्रेस द्वारा किए गए कार्यों को भुगत रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में बालू घोटाला हुआ। खाली पड़ी माइंस को बालू भराई के दौरान बहुत बड़ा बालू घोटाला हुआ। जिसमें सीबीआई जांच शुरू हुई जो ऑफिसर जांच करने आए उसकी हत्या करा दी गयी। आज जितनी भी झरिया में भू-धसान की घटनाएं हो रहीं हैं उन सभी के लिए जिम्मेदार कांग्रेस पार्टी है। उन्होंने कहा कि आज भी झरिया की जमीन की खरीद बिक्री हो रही है। लोग मकान बना रहे हैं उन्हें जानकारी नहीं है कि यह असुरक्षित इलाका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *