नालंदा के हिलसा में दो पक्षों के बीच हुई गोलीबारी में एक महिला समेत तीन घायल

नालंदा, नालंदा के हिलसा में दो पक्षों के बीच हुई गोलीबारी में एक महिला समेत तीन लोग घायल हो गये। घायलों में दो को बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया। गैरमजरुआ जमीन पर कब्जा जमाने को लेकर यह घटना शुक्रवार को हिलसा थाना के नदवर गांव में हुई। इस मामले में दोनों पक्षों द्वारा एफआईआर करायी गयी है। पुलिस ने पांच अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बताया जाता है कि अलंग के किनारे जमीन पर नदवर गांव निवासी सुदन यादव का फुफेरा भाई भोला यादव कब्जा कर उसपर मवेशी बांधते थे। इसी जमीन को ललन यादव खाली करने के लिए भोला पर दबाब बना रहे थे। रैयती जमीन के सामने गैरमजरुआ जमीन होने की कारण ललन इस जमीन पर अपनी दावेदारी ठोक रहे थे। पिछले कई दिनों से चल रहे विवाद को खत्म करने के लिए पंचयती बुलायी गयी थी।

जमीन का मामला सुलझाने की बात चलते ही दोनों पक्ष आपस में उलझ गए और गाली-गलौज होने लगी। बात बढ़ी तो गोलीबारी शुरू हो गयी। मौके पर मौजूद लोग इधर-उधर जान बचाकर भागने लगे। गोलीबारी में एक पक्ष से ललन यादव तथा दूसरे पक्ष के सुदन यादव की बेटी रजंती कुमारी के अलावा पकड़िया बिगहा गांव निवासी अजय यादव घायल हो गए। तीनों घायलों को इलाज के लिए अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद अजय यादव तथा ललन यादव को बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया। जबकि रजंती का इलाज अनुमंडलीय अस्पताल में चल रहा है।

ललन के पक्ष का कहना है कि बुलावे पर पंचयती करने अजय यादव विवादित जमीन पर गये थे। जबकि सुदन के पक्ष का कहना है कि अजय यादव गोहार के तौर पर एक पक्ष की मदद करने गया था।

नदवर गोली कांड में दोनों पक्ष के आवेदन के आधार पर एक-दूसरे के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई। ललन यादव तथा सुदन यादव के पक्ष द्वारा दिए गए आवेदन के आधार सात-आठ लोगों को अभियुक्त बनाया गया है।

नदवर गोली कांड में पांच नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया। थानाध्यक्ष रत्न किशोर झा ने बताया कि दोनों पक्षों द्वारा दर्ज करायी गयी एफआईआर में करीब सोलह लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। नामजद अभियुक्तों में से एक पक्ष से सुदन यादव, नीतू कुमार एवं रामाशीष प्रसाद तथा दूसरे पक्ष से अवधेश प्रसाद एवं जयप्रकाश नारायण को गिरफ्तार कर लिया गया। शेष अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *