पटना के मसौढ़ी में छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद ईंट-पत्थर से कूंच-कूंचकर हत्या

पटना, रिश्ते में भाई लगने वाले युवक ने अपने कुछ दोस्तों के साथ मिलकर 10वीं कक्षा की छात्रा (18 वर्ष) के साथ सामूहिक दुष्कर्म (गैंग रेप) किया तथा साक्ष्य छुपाने के लिए ईंट-पत्थर से कूंच-कूंचकर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। घटना मंगलवार की देर रात मसौढ़ी थाना इलाके के एक गांव में हुई, जबकि छात्रा का शव बुधवार की सुबह उसके कमरे में देखा गया।

जिस वक्त यह वारदात हुई, उस समय छात्रा घर में अकेली थी। उसकी मां इलाज कराने बिहटा स्थित अपने मायके गई हुई थी

सुबह में जैसे ही लोगों को इस जानकारी मिली वैसे ही छात्रा के घर के सामने भीड़ लग गई और मौके पर पहुंची पुलिस को शव उठाने से रोक दिया। लोग डॉग स्क्वॉयड और एफएसएल की टीम को बुलाने की मांग पर अड़ गए। अंत में पुलिस ने डॉग स्क्वॉयड को बुलाया। डॉग स्क्वॉयड की मदद से आरोपितों की पहचान की गई तथा उनके घरों से कपड़े और जूते बरामद किए गए।

सिटी एसपी जितेंद्र कुमार के मुताबिक, रिश्ते में छात्रा का भाई लगने वाले अंजनी साव को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह छात्रा के घर के बगल में ही रहता है। अंजनी के बदन पर भी चोट के निशान मिले हैं। दो संदिग्ध शिबू और गोलू को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। वहीं, दूधीचक के टोला शीतलगढ़ के संजय राय के बेटे धर्मेन्द्र यादव की तलाश में छापेमारी कर रही है।

पकड़े गए अंजनी ने शुरुआती दौर में पुलिस को काफी बरगलाने की कोशिश की, लेकिन बाद में उसने सच्चाई बयां कर दी। पुलिस के मुताबिक, चारों सीढ़ी के सहारे छात्रा के घर की छत पर चढ़े, फिर घर में घुस गए। उनलोगों को देखकर छात्रा ने शोरशराबा भी किया। बावजूद अगल-बगल के लोगों की नींद नहीं खुली। काफी देर तक छात्रा उनका विरोध करती रही। बाद में उन लड़कों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया तथा मामला खुल न जाए, इसलिए छात्र के गले पर प्रकाल से वार किया। छात्रा के गिरते ही उनलोगों ने ईंट-पत्थरों से उसके चेहरे पर वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। छात्रा के दम तोड़ते ही सभी वहां से भाग निकले।

घटना के संबंध में छात्रा के एक संबंधी ने बताया कि एक छोटी बच्ची गांव की दुकान से सामान लेकर कोहड़ा का पत्ता लाने उसके घर गई थी। आवाज देने के बाद भी जब दरवाजा नहीं खुला तो बच्ची ने गेट के नीचे से झांका। इस दौरान घर के आंगन में उसे छात्रा का खून से लथपथ शव दिखा। इसकी सूचना उसने अपने घर में दी।

छात्रा का मोबाइल गायब है। पुलिस ने छात्रा के घर के बगल में रहने वाले उसके रिश्तेदार अंजनी साव के घर से जींस पैंट, जूता और अन्य सामान बरामद किए हैं। वहीं, धर्मेन्द्र यादव के घर से धोयी हुई पैंट-शर्ट के अलावा कई अन्य साक्ष्य जब्त किए गए हैं। पुलिस ने दो महिलाओं समेत चार लोगों को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। उधर, छात्रा को ट्यूशन पढ़ाने वाला शिक्षक भी संदेह के घेरे में है। पुलिस उसका भी पता लगा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *