पाइप लाइन के जरिए घरों में हो रही थी कच्ची शराब की सप्लाई

लखनऊ, जहरीली शराब से हुई प्रदेश में कई मौतों के बाद पुलिस व आबकारी टीम ने शनिवार को कई जगह छापेमारी की। सहवेगपुर गांव में कच्ची शराब की पूरी फैक्ट्री पुलिस ने तोड़ी। यहां पाइप लाइन के जरिए घरों में कच्ची शराब की सप्लाई हो रही थी। पुलिस ने पाइप लाइन को जलवा दिया। इसके साथ ही पुलिस ने 22 हजार लीटर लहन नष्ट कर एक ढाबे से अवैध शराब बिक्री भी पकड़ी।

शाहजहांपुर के एसपी डॉक्टर एस चनप्पा के निर्देश पर सीओ मंगल सिंह रावत, एसडीएम मोइन उल इस्लाम, कोतवाल अशोक पाल तथा आबकारी निरीक्षक फरजंद अली ने रात में बरेली मोड़ से लेकर कटरा क्षेत्र तक हाइवे पर प्रत्येक होटल तथा ढाबे का निरीक्षण किया।

कोतवाल अशोक पाल ने बताया कि नगरिया मोड़ स्थित एक ढाबे से अवैध रूप से देसी शराब बेच रहे हाजी नगला गांव के राहुल के पास से 50 पौवे पकड़े। इसके बाद पूरी टीम ने सहवेगपुर, मिर्जापुर, गुलचंपा, हाजीपुर आदि गांव में छापेमारी की।

कोतवाल ने बताया कि सहवेगपुर गांव के बाहर तालाब के पास कच्ची शराब की फैक्ट्री पकड़ी। यहां पर कई सालों में कच्ची शराब बन रही थी और पाइपों के द्वारा घरों में सप्लाई की जाती थी। कच्ची शराब गांव के बाहर से अंदर तक पहुंचाने के लिए पूरी पाइप लाइन डाल रखी थी। पुलिस ने कई घरों में भी दबिश दी, लेकिन पुलिस के डर से आदमी गांव को छोड़ कर भाग गए।

आबकारी निरीक्षक फरजंद अली ने बताया कि टीम ने अवैध शराब बिक्री कर रहे सात लोगों को पकड़ा गया। लगभग 22 हजार लहन नष्ट कर, 25 लीटर अवैध शराब, 8 भट्टी पकड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *