बिहार के मुजफ्फरपुर में जिंदा जलाई गई छात्रा की मौत पर बवाल

मुजफ्फरपुर, बिहार में मुजफ्फरपुर के अहियापुर में दबंगों द्वारा जिंदा जलाई गई छात्रा की सोमवार देर रात पटना के एक अस्पताल में मौत हो गई मौके पर मौजूद परिजनों को जैसे ही छात्रा की मौत सूचना दी गई, वे फूट-फूट कर रोने लगे।

पीड़िता के पिता ने कहा कि हम न्याय की मांग करते हैं। पुलिस दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करनी चाहिए।

मंगलवार की अहले सुबह अहियापुर में जिंदा जलाई गई छात्रा की मौत की खबर मिलते ही पूरा शहर उबल पड़ा। आक्रोशित भीड़ सड़कों पर उतर आई। सड़कों पर टायर जलाकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। बैरिया चौक के साथ ही पटना-मोतिहारी-दरभंगा एनएच को पूरी तरह से जाम कर दिया। प्रदर्शनकारी पुलिस अधिकारियों के सामने ‘अहियापुर पुलिस मुर्दाबाद’ के नारे लगा रहे हैं। कई जगहों पर पुलिस और प्रदर्शकारी आमने-सामने हैं।

घटना के बाद से लेागों में पुलिस के प्रति गुस्सा था मगर मौत की खबर के बाद लोगों का आक्रोश और भड़क गया। फिलहाल हजारों की संख्या में लोग सड़क पर आकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग कर रहे हैं।

प्रदर्शनकारियों में आम लोगों के अलावा विभिन्न महिला और सामाजिक संगठनों के लोग भी शामिल हैं। लोगों के आक्रोश को देखते हुए शहर में बड़ी संख्या में आरएएफ के जवानों को भी तैनात कर दिया गया है। माना जा रहा है कि लड़की का शव आने के बाद स्थिति और बिगड़ सकती है। परिजनों के अनुसार वे लेाग लड़की का दाह संस्कार मुजफ्फरपुर में करना चाह रहे हैं जबकि पुलिस पटना में ही शव जलाने का दबाव बना रही है।

प्रदर्शनकारियों में पुलिस के प्रति जबरदस्त गुस्सा देखा जा रहा है। लेागों का आरोप है कि पुलिस की लापरवाही के कारण लड़की की जान गई है। छेड़खानी और परेशान करने की बार-बार शिकायत करने के बावजूद पुलिस ने दबंगों पर कोई कार्रवाई नहीं। आरोपी राजा राय की मन बढ़ता गया और एक दिन लड़की के घर में घुसकर उसे जिंदा जला दिया।

बता दें कि 8 दिसंबर को अहियापुर के नाजिरपुर गांव में दबंगों ने घर में घुसकर एक छात्रा को केरोसिन डालक जिंदा जला दिया था। इतना ही नहीं, आग लगाने के बाद बदमाश ने ही अपने दोस्तों के साथ मिल कर उसे निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया और भाग गया। बाद में परिजनों ने उसे एसकेएमसीएच में भर्ती कराया। लड़की 90 फीसदी से अधिक जल चुकी थी। घटना के वक्त लड़की अपने घर में अकेली थी। एसएसपी ने मुख्य आरोपित राजा राय को उसी दिन गिरफ्तार कर लिया गया था।

दबंगों द्वारा छात्रा को इस कदर जला दिया गया था कि वह 90 फीसदी से ज्यादा जल गई थी। इसके चलते उसकी हालत दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही थी। पटना के बर्न हास्पिटल में इलाज शुरू होने के बाद भी उसकी हालत में सुधार नहीं हो रहा था। पिछले तीन दिन से उसकी हालत नाजुक बनी हुई थी। इस बीच कई बार छात्रा के दम तोड़ने की अफवाहें उड़ती रहीं। सोमवार की शाम से ही छात्रा की हालत गंभीर होने लगी। रात में 11:38 बजे उसने दम तोड़ दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *