बिहार के मुजफ्फरपुर में बैरिया बस स्टैंड में बस कंपनी के इंचार्ज कुंदन सिंह को अपराधियों ने गोलियों से भूना

मुजफ्फरपुर, बिहार के मुजफ्फरपुर में बैरिया बस स्टैंड में शुक्रवार को एक बस कंपनी के इंचार्ज कुंदन सिंह को पुरानी अदावत में अपराधियों ने गोलियों से भून डाला। तीन अपराधियों ने मिलकर पांच गोलियां मारी। बैरिया के एक निजी अस्पताल में उसकी मौत हो गई।

वहीं वारदात को अंजाम देकर भाग रहे अपराधियों की बैरिया गोलंबर स्थित एक बस गैरेज में पुलिस से मुठभेड़ हो गई। दोनों तरफ से 50 से अधिक राउंड फायरिंग हुई। इसमें सीतामढ़ी के परसौनी का अपराधी रोहित कुमार ढेर हो गया। उसे करीब आधा दर्जन गोलियां लगी थीं। उसके पास से पुलिस ने एक पिस्टल और दो गुप्ती जब्त की है। उसके दो साथी बाइक से भागन में सफल रहे। घटनास्थल से पुलिस ने पिस्टल व एके-47 का एक दर्जन खोखा व कारतूस बरामद किया है।

मुठभेड़ के दौरान किशनगंज का छात्र पवन कुमार अपराधी की गोली से जख्मी हो गया, जबकि तीन एसटीएफ के जवान नागेंद्र कुमार, राज कुमार सिंह व सुनील कुमार भगदड़ मचने पर गंभीर रूप से चोटिल हो गए। जख्मी छात्र का बैरिया के एक निजी अस्पताल व चोटिल जवानों का एकेएमसीएच में इलाज जारी है। घटना को लेकर दो एफआईआर की जा रही है। एक एफआईआर पुलिस और दूसरी एफआईआर जख्मी युवक की ओर से कराई जाएगी।

घटनास्थल पर एसएसपी मनोज कुमार, सिटी एसपी राकेश कुमार, एएसपी अभियान बिमलेश चंद्र झा, नगर डीएसपी मुकुल कुमार रंजन, डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय, नगर थानेदार धनंजय कुमार, क्यूआरटी प्रभारी आरपी गुप्ता, बम निरोधक दस्ता, एफएसएल की टीम समेत ब्रह्मपुरा व अहियापुर थाने की पुलिस जमी हुई थी। एसएसपी के निर्देश पर फरार अपराधियों की गिरफ्तारी को विशेष टीम छापेमारी में जुट गई है।

एसएसपी मनोज कुमार ने बताया कि मुठभेड़ में पुलिस ने एक अपराधी को न्यूट्रलाइज कर दिया। वह बस कंपनी के इंजार्च कुंदन की हत्या कर भाग रहा था। पुलिस के घेरने पर उसने हमला कर दिया। जवाबी कार्रवाई में जिला एसटीएफ ने एके-47 से फायरिंग की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *