बुजुर्ग के दोनों हाथों की सारी उंगलियां काटने का पंचायत ने सुनाया खौफनाक फरमान

बीरभूमि, पश्चिम बंगाल के बीरभूमि जिले से पंचायत का तुगलकी फरमान गुरुवार को भारी पड़ गया। पंचायत ने पहले उस बुजुर्ग को ‘राक्षस’ करार दिया और फिर उसके दोनों हाथों की सारी उंगलियां काटने का बेहद खौफनाक फरमान सुना डाला, जिसे अमल में लाते हुए उस बुजुर्ग की सारी उंगलियां काट दी गईं।

दिल दहला देने वाली यह घटना बीरभूमि के शांति निकेतन इलाके की है, जहां फंदी नामक एक बुजुर्ग के मामले में पंचायत बुलाई गई। 74 साल के आरोपी बुजुर्ग को भी तलब किया गया। आरोप था कि वो बुजुर्ग तंत्र-मंत्र और ऐसे ही क्रिया-कर्म करता था। मामले की सुनवाई के बाद तानाशाही दिखाते हुए पंचायत ने राक्षस करार दे दिया।

मामला यहीं खत्म नहीं हुआ और पंचायत ने तुगलकी फरमान सुनाते हुए पंचायत ने बुजुर्ग के हाथ की सारी उंगलियां काटने का फरमान सुना दिया। फिर क्या था, पंचायत के दबाव में आकर लोगों ने उस बुजुर्ग की सारी उंगलियां तेजधार हथियार से काट दी। इस दौरान वो बुजुर्ग व्यक्ति रहम की भीख मांगता रहा, लेकिन वहां मौजूद लोगों के दिल नहीं पसीजे। हैरानी की बात ये है कि इस घिनौनी वारदात में पीड़ित का बेटा भी शामिल था। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने पांच लोगो को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं इलाके के कुछ लोगों का आरोप है कि फंदी ‘राक्षस’ था, वो तंत्र-मंत्र करता था। उसकी वजह से कई लोग बीमार हो गए थे। इसी वजह से यह मामला पंचायत में ले जाया गया।

जिले के एसपी कुणाल अग्रवाल ने बताया कि इस घटना में पंचायत ने पीड़ित के बेटे पर भी अपने पिता की उंगलियां काटने का दबाव बनाया और उसे ऐसा करना पड़ा। इस मामले में अभी तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *