भाजपा विधायक ढुलु महतो को 18 माह जेल की सजा, जमानत पर हुए रिहा

रांची, झारखंड में विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा को तगड़ा झटका लगा है। राज्य में भाजपा के कद्दावर नेता कहे जाने वाले विधायक ढुलु महतो को एक आपराधिक मामले में कोर्ट ने सजा सुनाई है। विधायक को अब 18 माह जेल की सजा सुनाई थी। सजा सुनाए जाने के कुछ दे बाद ही कोर्ट से उन्हें जमानत मिल गई है।

ढुलु महतो के खिलाफ पुलिस ने 2013 में मुकदमा लिखा था। मामला कोर्ट में विचाराधीन चल रहा था। आज कोर्ट ने उन्हे एक मामले में एक साल की और दूसरे मामले में 18 माह की सजा सुनाई थी।

झारखंड में बाघमारा विधानसभा क्षेत्र से विधायक ढुलु महतो पर 2013 में पुलिस अधिकारी की वर्दी फाड़ने व सरकारी काम में बाधा डालने व पुलिस कस्टडी से आरोपी को छुड़ा ले जाने के आरोप लगे थे। पीड़ित पुलिस अधिकारी की तरफ से मौजूदा विधायक पर कई धाराओं में मुकदमा लिखाया गया था। कोर्ट ने सभी आरोपों में विधायक को दोषी पाए जाने पर सजा सुनाई है। विधायक के साथ-साथ चार और लोगों पर आरोप लगे थे। मामले में सभी आरोपियों को दोषी पाते हुए कोर्ट ने सजा सुनाई है। धनबाद सेशन कोर्ट ने आरोपियों को सजा सुनाते हुए एक आरोपी को दोषी न पाए जाने पर बरी भी किया है।

अभी हाल ही में एक महिला नेता ने बाघमारा के भाजपा विधायक ढुलू महतो पर दुष्कर्म के प्रयास का आरोप लगाया था। विधायक के खिलाफ लंबी तफ्तीश के बाद बीते रविवार को पुलिस ने कतरास थाने में दुष्कर्म के प्रयास की एफआईआर दर्ज की थी। ढुलू महतो के खिलाफ भाजपा की ही एक जिला मंत्री ने यौन शोषण के प्रयास का आरोप लगाते हुए कतरास थाने में ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराई थी।

शिकायत में नेत्री का आरोप है कि 13 नवंबर 2015 को फोन करके विधायक ने उन्हें रांची चलने को कहा था, लेकिन उनके पास टाइम नहीं था, इसलिए उन्होंने मना कर दिया। एक सप्ताह बाद फिर विधायक ने उन्हें फोन कर टुंडु गेस्ट हाउस बुलाया। जब वह गेस्ट हाउस पहुंचीं तो वहां विधायक और आनंद शर्मा मौजूद थे। थोड़ी देर के बाद आनंद शर्मा वहां से चले गए। फिर विधायक ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया। विधायक से बच कर वह अपनी दुकान पहुंचीं। ढुलू महतो के कहने पर वहां आनंद शर्मा पहुंच गए। वह कहने लगे कि विधायक की बात मान लो, नहीं तो बुरे परिणाम भुगतने होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *