यूपी के अयोध्या में प्राथमिक विद्यालय का छज्जा व बीम गिरने से एक बच्चा घायल

लखनऊ, यूपी के अयोध्या जिले में बच्चों के खेलते समय प्राथमिक विद्यालय के जर्जर भवन का छज्जा व बीम भरभरा कर गिरने से इसके चपेट में आ जाने के कारण एक बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया। जबकि घटनास्थल के पास ही खेल रहे करीब एक दर्जन बच्चे बाल-बाल बच गए।

घटना के बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई घटना की जानकारी पाकर पास में ही चाय की दुकान करने वाले एक वृद्ध दंपत्ति ने मौके पर पहुंचकर गिरे हुए मलबे से छात्र को निकाला।

आनन-फानन में उसे गोसाईगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया जहां पर हालत गंभीर होने के कारण उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया जहां पर उसकी हालत में सुधार बताया गया है।

घटना की जानकारी से शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया। खंड शिक्षा अधिकारी खुद ही अध्यापकों के साथ बच्चे के इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंच गए।

घटना शिक्षा क्षेत्र मया के प्राथमिक विद्यालय जैता में सुबह करीब 7.30 बजे हुई। विद्यालय में अध्यापकों के आने से पूर्व ही छात्र आ चुके थे और वह इकट्ठा होकर आपस में विद्यालय प्रांगण में ही जर्जर भवन के पास खेल रहे थे तभी जर्जर भवन का एक हिस्सा छज्जा से लेकर बीम तक भरभरा कर गिर गया। जिसके नीचे कक्षा दो का छात्र हर्षित पुत्र सुरेश कुमार दब गया। मौके पर खेल रहे बच्चों ने शोर मचाई तो विद्यालय के बगल में ही चाय की दुकान करने वाले वृद्ध दंपत्ति सती प्रसाद और उनकी पत्नी घटनास्थल की तरफ भागे।

मौके पर पहुंचते ही बच्चों ने मलबे के नीचे हर्षित के दबे होने की बात बताई। फौरन वृद्ध दंपति ने घायल बच्चे को मलबे से निकाल लिया। तब तक विद्यालय के अध्यापक दीपक कुमार और पूर्व माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक सिवानंद भी पहुंच चुके थे। वे फौरन घायल छात्र को अपने वाहन से लेकर सामुदायिक स्वास्थ केंद्र गोसाईगंज पहुंचे जहां पर डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद घायल छात्र को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। अध्यापकों ने शिक्षा विभाग को सूचना देने के बाद वहीं से फिर वाहन से जिला अस्पताल पहुंचे जहां पर घायल छात्र का इलाज जारी है।

प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य अजय कुमार का कहना है कि उन्होंने 26 अक्टूबर 2018 को ही विभाग को इसके लिए पत्र लिखा था कि भवन जर्जर है कभी भी दुर्घटना हो सकती है लिहाजा इसे ध्वस्त किया जाए परंतु विभाग में कोई भी सुनवाई नहीं हुई जिसके कारण आज है घटना घटित हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *