राजनीतिक दलों के बीच महागठबंधन गलत है – फारुख अब्दुल्ला

श्रीनगर, जम्मू और कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला ने देश में राजनीतिक हालात सही नहीं बताते हुए कहा है कि राजनीतिक दलों के बीच महागठबंधन गलत है। अब्दुल्ला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने जिस तरह से धर्म विशेष का माहौल बनाकर धर्मों एवं जातियों के बीच लड़ाई शुरू कर रखी है, उसे भी सही नहीं ठहराया जा सकता। अब्दुल्ला रविवार को अजमेर में सुबह दरगाह की जियारत करने के बाद सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने महागठबंधन के नाम को ही गलत करार देते हुए कहा कि राजनीतिक दल अपने लिए सक्रिय हैं। उन्होंने कहा कि देश में जो राजनीतिक हालात हैं, वह सही नहीं है। उन्होंने आगामी लोकसभा चुनाव में किसकी सरकार बनेगी के सवाल पर कहा कि जो सरकार आएगी उसे जनता बनाएगी। धर्म के नाम पर टुकड़े करने वाले और अमन की सरकार बनाने वालों के बीच चुनावी लड़ाई चलेगी। उन्होंने राम मंदिर बनने की साफ शब्दों में वकालत करते हुए कहा कि भगवान राम किसी एक के नहीं विश्व के राम है।

भाजपा पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि सत्ता में आने से पहले देश के दो करोड़ लोगों को नौकरी का वादा पूरा नहीं किया जा सका, देश के किसानों की हालत खराब है, उद्योगपति देश छोड़कर भाग रहे हैं, फिर बेरोजगारों को रोजगार कहां से मिलेगा। पश्चिम बंगाल के हालातों पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बंगाल में जो काम किया है, उससे वहां अमन है और तरक्की भी बहुत हुई है।

फारुख अब्दुल्ला ने कश्मीर के हालातों में सुधार बताते हुए कहा है कि घाटी में अमन बनाए रखने के लिए पाकिस्तान के साथ बातचीत और समझौता करने की जरूरत है। अब्दुल्ला ने अजमेर में सुबह दरगाह की जियारत करने के बाद सर्किट हाउस में पत्रकारों से कहा कि कश्मीर के हालातों में सुधार हुआ है और घाटी में अमन बनाए रखने के लिए पाकिस्तान के साथ बातचीत और समझौता दोनों करना आवश्यक है। लोकसभा चुनाव के बाद पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम इमरान खान के साथ बातचीत होगी इसका उन्हें पूरा भरोसा है।

पाक अधिकृत कश्मीर के समर्थन में उनके रुख पर किए सवाल पर अब्दुल्ला ने कहा कि वह हिंदुस्तानी मुसलमान हैं और कश्मीर का मुद्दा राजनीतिक मसला है। उन्होंने जोर देकर कहा कि कश्मीर का हल बातचीत के जरिए ही निकाला जा सकता है। उन्होंने देश में लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव एक साथ कराए जाने की वकालत करते हुए कहा कि चुनाव के इंतेजामात एक जैसे ही होते हैं। ईवीएम मशीन के सवाल पर उन्होंने कहा कि ईवीएम मशीन चोर है। उन्होंने कहा कि मशीन के जरिए वोट दूसरे को जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ईवीएम मशीन पर नियंत्रण बना रहना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *