लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण के लिए 117 सीटों पर 64.66 प्रतिशत मतदान

नई दिल्ल, लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण के लिए देशभर की 117 सीटों पर मंगलवार को 64.66 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। असम में 78.29 फीसदी, बिहार में 59.97 फीसदी, गोवा में 71.09 फीसदी, गुजरात में 60.21 फीसदी, जम्मू कश्मीर 12.86 फीसदी मतदान हुआ।

कर्नाटक में 64.14 फीसदी, महाराष्ट्र में 59.11 फीसदी, केरल में 70.21 फीसदी, ओडिशा में 58.18 फीसदी, उत्तर प्रदेश में 60.52 फीसदी, त्रिपुरा में 78.52 फीसदी, पश्चिम बंगाल में 79.36 फीसदी, छत्तीसगढ़ में 65.91 फीसदी, दमन एंड दीव में 65.34 फीसदी और दादरा-नगर हवेली में 71.43 फीसदी वोट डाले जा चुके हैं?।

उत्तर प्रदेश – 61.40%
बिहार – 59.97%
प. बंगाल – 79.77%
महाराष्ट्र – 59.09%
गुजरात – 63.67%
केरल – 71.55%
छत्तीसगढ़ – 68.41%
कर्नाटक – 67.44%
ओडिशा – 60.58%
असम – 80.73%
गोवा – 73.33%
जम्मू-कश्मीर – 12.86%
दादर और नगर हवेली- 71.43%
दमन और दीव – 71.83%
त्रिपुरा – 79.57%

चुनाव आयोग के मुताबिक इस चरण में करीब 66 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। हालांकि पिछले दो चरण के मुकाबले यह संख्या कुछ कम रही।

उप चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा ने बताया कि मतदान के ये अंतिम आंकड़े नहीं हैं और इसमें बदलाव हो सकता है। असम के धुबड़ी में सबसे ज्यादा जबकि जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में सबसे कम मतदान हुआ। सिन्हा ने बताया, मतदान सामान्य रूप से शांतिपूर्ण रहा। केरल में 11 मतदाताओं की बीमारी से मौत होने की सूचना मिली है।

पश्चिम बंगाल र्में हिंसा की खबरें आईं। मुर्शिदाबाद में मतदान केंद्र के बाहर एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई। उसके कांग्रेस कार्यकर्ता होने का दावा किया जा रहा है। वहीं, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्रीय सुरक्षाबलों पर भाजपा के लिए काम करने का आरोप लगाया।

जम्मू-कश्मीर में पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के गढ़ अनंतनाग में 65 में से 40 मतदान केंद्र बिजबेहरा इलाके में थे, जहां एक भी वोट नहीं पड़ा।

यूपी के कई इलाकों में ईवीएम में गड़बड़ी की सूचना मिली। राज्य के अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी अशोक मानेक ने कहा कि कुछ हिस्सों में ईवीएम में खराबी आई थी जिसे तत्काल बदल दिया गया। इस पर विस्तृत रिपोर्ट जारी की जाएगी। इस चरण के बाद गुजरात, कर्नाटक, केरल, गोवा, असम, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और पूर्वोत्तर के सभी राज्यों में चुनाव कार्यक्रम पूरा हो गया है।

मतदान के दौरान ईवीएम में गड़बड़ी पर कांग्रेस, तेदेपा, तृणमूल कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, माकपा, भाकपा और द्रमुक ने चिंता जाहिर की।
विपक्षी दलों के नेताओं ने मुंबई में एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन किया। इसमें एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि लोगों की भावना यही है कि मोदी नीत सरकार को बदल दिया जाए लेकिन चिंता का एकमात्र विषय ईवीएम से छेड़छाड़’ है। वहीं, कांग्रेस नेता सुशील कुमार शिंदे ने कहा कि 50 प्रतिशत वीवीपैट मशीनों की पर्चियों की गणना की मांग कुतर्की नहीं है। तेदेपा नेता एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा, ‘ईवीएम में प्रोग्रामिंग की गड़बड़ियां हो सकती हैं।’ ‘आप’ नेता संयज सिंह ने चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर सवाल उठाया। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी सुबह मतदान के बाद ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका जताई। उन्होंने चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग की।

गुजरात की सभी 26 और केरल की सभी 20 सीटों के साथ असम की चार, बिहार की पांच, छत्तीसगढ़ की सात, कर्नाटक तथा महाराष्ट्र में 14-14, ओडिशा की छह, उत्तर प्रदेश की 10, पश्चिम बंगाल की पांच, गोवा की दो और दादर नगर हवेली, दमन दीव तथा त्रिपुरा की एक-एक सीट शामिल हैं।

पूरे देश भर में तीन बजे तक 51 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में कांग्रेस कार्यकर्ता और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता भिड़ गए । इसमें कांग्रेस कार्यकर्ता की मौत हो गई है। टीएमसी ने अपने कार्यकर्ता के हाथ होने से इंकार कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *