सुरक्षा एजेंसियों के मना करने के बावजूद जनता के बीच गये प्रधानमंत्री मोदी, छत्तीसगढ़ को दी सौगात

रायपुर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान प्रदेश की जनता को राज्य की पहली घरेलू विमान सेवा की सौगात दी और भिलाई इस्पात संयंत्र के विस्तारीकरण कार्यों समेत अनेक परियोजनाओं का लोकार्पण भी किया। भारतीय वायुसेना के विशेष विमान द्वारा सुबह नई दिल्ली से रायपुर पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री मोदी मुख्यमंत्री रमन सिंह के साथ नया रायपुर पहुंचे, जहां उन्होंने नया रायपुर विकास प्राधिकरण (एनआरडीए) के मुख्यालय भवन में एकीकृत कमान एवं नियंत्रण केन्द्र का लोकार्पण किया। प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री के साथ हेलीकॉप्टर से भिलाई नगर पहुंचे।

प्रधानमंत्री मोदी ने विकास के लिए शांति, कानून व्यवस्था एवं बुनियादी सुविधाओं को जरूरी करार देते हुए कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार विश्वास का वातावरण बनाने का प्रयास कर रही है जिससे भारी संख्या में युवा मुख्यधारा में लौटे है।

मोदी ने इस्पात नगरी में भिलाई इस्पात संयंत्र के आधुनिकीकरण एवं विस्तारीकरण की परियोजना को राष्ट्र को समर्पित करने के बाद एक बड़ी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि विकास से विश्वास पैदा होता है और हिंसा का खात्मा होता है।

PM मोदी ने भिलाई इस्पात संयंत्र के आधुनिकीकरण एवं विस्तारीकरण से संबंधित कार्यों का लोकार्पण किया। भिलाई इस्पात संयंत्र के इन नए निर्माण कार्यों पर 18 हजार 500 करोड़ रुपए की लागत आई है। वर्ष 1955 में सार्वजनिक क्षेत्र के अंतर्गत स्थापित यह छत्तीसगढ़ का पहला इस्पात संयंत्र है। वर्ष 1962 में इस संयंत्र की वार्षिक उत्पादन क्षमता एक मिलियन टन थी, जो वर्तमान में चार मिलियन टन से ज्यादा हो गई है और आधुनिकीकरण और विस्तारीकरण के बाद संयंत्र ने अब सात मिलियन टन वार्षिक उत्पादन क्षमता हासिल कर ली है।

मोदी ने छत्तीसगढ़ की जनता को राज्य की प्रथम घरेलू विमान सेवा की भी सौगात दी।
प्रधानमंत्री ने केंद्र सरकार की ‘उड़ान’ परियोजना के तहत आम जनता को कम कीमत पर हवाई यातायात की सुविधा देने के लिए जगदलपुर-रायपुर-विशाखापट्टनम के बीच यात्री विमान सेवा का शुभारंभ करते हुए जगदलपुर विमानतल का भी लोकार्पण किया।
इस सेवा के अंतर्गत एक निजी कंपनी के 19 सीटों वाले विमान से यात्री सिर्फ 1670 रूपए के टिकट पर रायपुर से जगदलपुर केवल 40 मिनट में पहुंच सकेंगे।

जयंती स्टेडियम में आयोजित आमसभा में भिलाईनगर के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के विशाल भवन परिसर का शिलान्यास भी किया। राज्य सरकार के अनुरोध पर केन्द्र से भिलाई नगर के लिए आईआईटी की मंजूर मिली थाी और वर्ष 2016 में इसकी स्थापना हुई। यह भारत का 23वां आईआईटी है।

केन्द्र सरकार की भारत नेट परियोजना के दूसरे चरण का भी शुभारंभ किया। इसके अंतर्गत छत्तीसगढ़ की 10 हजार से अधिक ग्राम पंचायतों में से 5987 ग्राम पंचायतों को भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) द्वारा इंटरनेट सुविधा दी जाएगी। इसके लिए ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क विकसित किया जा रहा है।

मोदी ने कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रमन सिंह के नेतृत्व में 12 मई से प्रारंभ प्रदेशव्यापी विकास यात्रा 2018 के प्रथम चरण का औपचारिक समापन भी किया। दूसरा चरण 16 अगस्त से शुरू होकर 30 सितंबर तक चलेगा।

मोदी भिलाई संयंत्र के विमानतल पर उतरने के बाद संयंत्र परिसर में जा रहे थे कि रास्ते में उनके अभिवादन के लिए बेरीकेंटिग के पार महिलाओं, बच्चों एवं लोगो की भीड़ नारे लगा रही थी। इससे अभिभूत मोदी ने पहले तो कार के गेट पर खड़े होकर कुछ दूर यात्रा की और हाथ हिलाकर अभिवादन का जवाब देते रहे लेकिन एक जगह वह कार से उतर कर बेरीकेंटिग तक पहुंच गए और लोगो से हाथ मिलाया, उनका हालचाल पूछा और बच्चों को पुचकारा।

प्रधानमंत्री कुछ क्षण तक रूकने के बाद आगे रवाना हुए। हाल ही में महाराष्ट्र में नक्सलियों के निशाने पर होने का मामला सामने आने के बाद सुरक्षा एंजेसियों ने फिलहाल रोड शो नहीं करने और भीड़ में नहीं पहुंचने की सलाह दी थी पर सुरक्षा एजेंसियों के मना करने के बावजूद प्रधानमंत्री जनता के बीच जाने का मोह नहीं छोड़ पाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *