उत्तर प्रदेश में एक दिन में सुरेश चन्द्र श्रीवास्तव समेत भाजपा के दो विधायकों का कोरोना से निधन

लखनऊ,               उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को एक तरफ रिकार्ड तोड़ कोरोना संक्रमित मिले और एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें हुईं तो दूसरी तरफ भाजपा के दो विधायकों का भी कोरोना से निधन हो गया। सुबह औरैया सदर से भाजपा विधायक रमेश दिवाकर की मौत हो गई। देर शाम राजधानी लखनऊ में पश्चिम क्षेत्र के भाजपा विधायक सुरेश चन्द्र श्रीवास्तव का कोरोना से निधन हो गया है। सुरेश चंद्र श्रीवास्तव संक्रमण की चपेट में आने के बाद से अस्पताल में भर्ती थे।

बताया जा रहा है कि सात दिन से वह वेंटिलेटर पर थे। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने विधायक के निधन पर ट्वीट कर श्रद्धांजलि अर्पित की है। एक दिन में ही भाजपा के दूसरे विधायक का कोरोना से निधन हुआ है। इससे पहले औरैया सदर से भाजपा विधायक रमेश दिवाकर का भी कोरोना से ही निधन हुआ था।

सुरेश चंद्र श्रीवास्तव के निधन पर शोक जताते हुए राजनाथ सिंह ने लिखा कि लखनऊ शहर से विधायक एवं उत्तर प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता श्री सुरेश श्रीवास्तव जी के निधन का समाचार बेहद पीड़ादायक है। जनप्रतिनिधि के रूप में उनकी सादगी, सरलता और उनकी कर्मठता अपने आप में एक मिसाल थी। उनके शोकाकुल परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएँ। ॐ शान्ति!

इससे पहले औरेया से भाजपा विधायक रमेश दिवाकर (56) का शुक्रवार सुबह मेरठ मेडिकल कॉलेज के कोविड वार्ड में निधन हो गया था। परिजन उनके शव को औरेया ले गए। औरेया में मोहल्ला तिलकनगर निवासी रमेश दिवाकर सदर सीट से भाजपा विधायक थे। पिछले दिनों दिक्कत महसूस होने पर उन्होंने परिवार सहित कोरोना जांच कराई थी। 17 अप्रैल को आई रिपोर्ट में रमेश दिवाकर, उनकी पत्नी और पुत्र कोरोना संक्रमित पाए गए। इसके बाद तीनों उपचार के लिए चिचौली स्थित जिला अस्पताल में भर्ती हुए। हालत बिगड़ने पर बुधवार को उन्हें कानपुर और फिर मेरठ मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया।

मेरठ में उपचार के दौरान विधायक की तबीयत और ज्यादा बिगड़ गई। शुक्रवार सुबह करीब सात बजे उनकी मौत हो गई। डॉक्टरों के अनुसार, फेफड़ों तक संक्रमण पहुंच गया था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य समेत तमाम नेताओं ने विधायक के निशन पर शोक जताया। शव को अन्य परिजन औरेया ले गए हैं, जबकि पत्नी-बेटे का उपचार चल रहा है।

You May Also Like

error: ज्यादा चालाक मर्तबान ये बाबू कॉपी न होइए