जगदानंद सिंह राजद में महाभारत के शिशुपाल और संजय यादव दुर्योधन हैं – तेजप्रताप यादव

पटना,                              राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव ने शुक्रवार को राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर हमला बोलते हुए एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान कहा कि जगदानंद सिंह राजद में महाभारत के शिशुपाल और संजय यादव दुर्योधन की भूमिका में हैं। तेजप्रताप ने कहा कि संजय यादव ने मुझे बदनाम करने के लिए सोशल मीडिया में ग्रुप बनवाया है।

वहीं पहली बार तेजप्रताप ने अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव के बारे में कहा कि नेता प्रतिपक्ष को बाढ़ से परेशान जनता की सेवा के लिए बिहार में रहना चाहिए। लेकिन संजय यादव उन्हें लेकर दिल्ली चले गए। गौरतलब है कि शुक्रवार की शाम तेजस्वी यादव दिल्ली रवाना हो गए।

माना जा रहा है कि तेजप्रताप और जगदानंद सिंह के बीच जारी जुबानी जंग को लेकर लालू यादव से बातचीत करेंगे तेजस्वी। दिल्ली रवाना होने से पहले पत्रकारों ने जब तेजस्वी यादव से सवाल किया कि क्या तेजप्रताप यादव मुलाकात के लिए आए थे तो उन्होंने कहा कि उनसे मुलाकात हुई है। लेकिन जिस समय वे मुलाकात के लिए आए थे उसी समय विपक्षी दलों की साझा बैठक शुरू हो गई थी।

वहीं राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कहा कि तेजप्रताप की हर गतिविधि पर राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव की नजर है। यह पूछने पर कि तेजप्रताप ने आप पर (जगदानंद) कार्रवाई की मांग की है तो इस पर जगदानंद ने कहा कि यह अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष को है। क्या आप तेजप्रताप पर कार्रवाई करेंगे, इस पर जगदानंद ने कहा कि वो विधायक हैं। उन पर कार्रवाई का अधिकार सिर्फ राष्ट्रीय अध्यक्ष को है।

तेजप्रताप के आरोप को लेकर पूछे गए सवाल पर जगदानंद ने कहा कि वह यह भूल जाते हैं कि कोर कमेटी को नियुक्ति का अधिकार नहीं है। जब तक आप पर कार्रवाई नहीं होती तेजप्रताप पार्टी के कार्यक्रम में नही आएंगे, इस सवाल पर जगदानंद ने कहा कि पार्टी के कार्यक्रम में किसको बुलाना है या किसको नहीं बुलाना है ये मेरा काम है। तेजप्रताप ने आपके बेटे पर पार्टी के खिलाफ काम करने की बात कही है, इस पर जगदानंद ने कहा कि अगर किया है तो शिकायत करें, तुरंत कार्रवाई होगी।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से मिलने के लिए राबड़ी आवास पहुंचे राजद विधायक तेजप्रताप चंद मिनटों के बाद ही बाहर निकल गए। इस दौरान वे काफी गुस्से में दिखे। पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हम तेजस्वी यादव से बात कर रहे थे तो संजय यादव ने हमें रोक दिया। हमको रोकने वाला वह कौन होता है। पत्रकारों ने जब पूछा कि क्या संजय यादव दोनों भाइयों के बीच विवाद पैदा कर रहे हैं तो तेजप्रताप ने हां में जवाब दिया। तेजप्रताप ने शनिवार को प्रदेश राजद कार्यालय में जनता दरबार लगाने की भी बात कही। इस मसले पर तेजस्वी यादव की राय पूछे जाने पर तेजप्रताप ने मीडियाकर्मियों को सलाह दी कि आप खुद पूछिए कि आखिर हमें बात करने से क्यों रोका गया।

You May Also Like

error: ज्यादा चालाक मर्तबान ये बाबू कॉपी न होइए