छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों ने एक सरपंच की धारदार हथियार से गला रेतकर की हत्या

बीजापुर,                   छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में नक्सलियों ने एक नक्सल प्रभावित गांव के सरपंच की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी है। नक्सलियों ने पुलिस की मुखबिरी की शंका में वारदात को अंजाम दिया है। दर्जनभर सशस्त्र माओवादी आधी रात को गांव आए थे और सरपंच को घर से उठाकर जंगल लेकर चले गए। सरपंच की हत्या कर माओवादी चले गए। घटना जिले के तोयनार थाना क्षेत्र का है।

मिली जानकारी के मुताबिक बीजापुर जिले के मोरमेड गांव में मंगलवार-बुधवार की रात दर्जनभर नक्सली आ धमके। माओवादी सरपंच पतिराम कुडियम के घर पहुंचे। उस समय पतिराम घर पर सो रहा था। नक्सलियों ने सरपंच को अपने साथ चलने को कहा। परिजनों ने पतिराम कुड़ियम को नहीं ले जाने का आग्रह किया, तब माओवादियों ने परिजनों को बंदूक के बल पर धमकाया। बताया जाता है कि गांव में विकास कार्य कराए जाने से माओवादी नाराज थे और कई दिनों से नक्सलियों के निशाने पर था। मुखबिरी की शंका में नक्सलियों द्वारा सरपंच को कई बार धमकी भी दी गई थी।

रात में दर्जनभर सशस्त्र माओवादी रतिराम के घर पहुंचे आए। उस समय रतिराम अपने परिवार के साथ घर में सो रहा था। नक्सलियों ने रतिराम को उठाया और अपने साथ लेकर चले गए। गांव से लगे जंगल में लेकर जाकर सरपंच का धारदार हथियार से गला रेत दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद नक्सली शव को वहीं छोड़कर चले गए। माओवादियों की इस हरकत से गांव में दहशत का माहौल है। पुलिस का बल गांव के लिए निकला है। सूत्रों के मुताबिक नक्सली लगातार मृतक के परिवार को टार्गेट करते आए हैं। इससे पहले भी परिवार के 2 लोगों की हत्या नक्सली कर चुके हैं।

You May Also Like

error: ज्यादा चालाक मर्तबान ये बाबू कॉपी न होइए