कश्मीर में दो दिनों में चार आतंकी हमले, तीन ग्रेनेड अटैक, दो पुलिसकर्मी शहीद और एक घायल

श्रीनगर,         स्वतंत्रता दिवस को देखते हुए पूरे कश्मीर में हाई सिक्योरिटी अलर्ट के बावजूद बीते दो दिनों में चार आतंकी हमले हुए, जिनमें तीन ग्रेनेड अटैक भी शामिल हैं। इन हमलों में दो पुलिसकर्मी शहीद हो गए और एक घायल है। एक आम नागरिक भी घायल हुआ है।

सुरक्षा अधिकारियों का दावा है कि स्वतंत्रता दिवस बगैर किसी बड़ी घटना के शांति पूर्वक बीत गया। हालांकि, एक के बाद एक हुए ग्रेनेड अटैक चिंता जरूरी खड़ी करते हैं। 15 अगस्त को आतंकियों ने पुलिस कंट्रोल रूम को भी निशाना बनाया, जिसमें पुलिसकर्मी घायल हुआ।

पुलिस ने बताया कि आतंकियों ने एक घंटे के भीतर दो ग्रेनेड हमले किए। उन्होंने बताया कि पहला हमला बडगाम जिले के चदूरा में अल्पसंख्यक बस्ती में किया गया, जबकि दूसरा हमला श्रीनगर के पुलिस नियंत्रण कक्ष पर। पुलिस प्रवक्ता ने ट्वीट किया, ‘आतंकवादियों ने बडगाम के गोपालपोरा चदूरा इलाके में ग्रेनेड फेंका, जिसमें एक नागरिक करण कुमार सिंह घायल हो गया और उसे इलाज के लिए श्रीनगर अस्पताल ले जाया गया।’

स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर श्रीनगर के नौहट्टा इलाके में मुठभेड़ में घायल हुए पुलिसकर्मी की सोमवार को मृत्यु हो गई। अधिकारियों ने बताया कि रामबन जिले के रहने वाले कांस्टेबल सरफराज अहमद की अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। दोपहिया वाहन सवार आतंकवादियों ने रविवार को नौहट्टा के सजगरी पोरा में रेडपोरा पार्क के पास पुलिस दल पर गोलीबारी की थी।

प्रवक्ता ने मोमिन गुलजार नाम के आतंकवादी को स्कूटी मुहैया कराने के आरोप में नाटीपोरा इलाके से उमर मुख्तार नकीब को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा, ‘स्कूटी रविवार को मुठभेड़ के बाद जब्त कर ली गई थी और उसके साथ हथियार, गोला-बारूद, विस्फोटक, कपड़े और अन्य आपत्तिजनक सामग्री भी जब्त की गई थी।’

You May Also Like

error: ज्यादा चालाक मर्तबान ये बाबू कॉपी न होइए