झारखंड में गढ़वा से एक दलित नाबालिग को अगवा कर उसके साथ इरशाद खान ने दो दिन तक किया दुष्कर्म

गढ़वा,           झारखंड में गढ़वा के बरडीहा इलाके एक गांव से एक दलित नाबालिग को अगवा कर उसके साथ इरशाद खान द्वारा दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोपी दूसरे समुदाय का है। पीड़िता के बयान पर पुलिस ने आरोपी इरशाद खान के खिलाफ रविवार को केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पीड़िता ने बताया कि छह सितंबर की शाम इरशाद और उसके एक साथी ने उसे बाइक से अगवा किया। रास्ते में ही दोनों ने उसे कुछ सुंघाया, उसके बाद वह बेहोश हो गई। जब होश आया तो खुद के एक कमरे में बंद पाया। इसके बाद इरशाद ने परिवार को जान मारने की धमकी देकर और बंदूक का भय दिखाकर उससे कई बार दुष्कर्म किया। विरोध पर मारपीट भी की गई। दो दिन बाद उसे बताया गया कि उसकी मां से बात हो गई है। तुमको मेरे आदमी मझिआंव छोड़ देंगे। अगर इस घटना के बारे में किसी और को बताया तुम्हें व तुम्हारी मां को मार देंगे। उसे नौ सितंबर को एक लाल रंग की कार से उसे बकोइया-मझिआंव सीमा पर छोड़ दिया। वहां उसकी मां मौजूद थी। मां को अपहर्ता ने फोन कर बुलाया था। कार में मौजूद लोगों के पास भी बंदूक थी वहां उतारने के बाद वह मां के साथ नानी के घर चली गई। वहां पहुंचने पर उसने अपने परिवार के लोगों को जानकारी दी। पहले तो मह डर के कारण थाने में शिकायत दर्ज नहीं करा रही थी। परिजनों के कहने पर वह रविवार को थाना पहुंची।

थाना प्रभारी ने बताया कि केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

 

You May Also Like

error: ज्यादा चालाक मर्तबान ये बाबू कॉपी न होइए