अलीगढ़ में भाजपा विधायक और थानेदार के बीच मारपीट

लखनऊ, अलीगढ़ में भाजपा विधायक और थानेदार के बीच बुधवार को मारपीट हो गई। बीजेपी विधायक राजकुमार सहयोगी ने आरोप लगाया कि गोंडा थाने में एसओ सहित तीन दारोगा ने मुझ पर हमला बोल दिया और कपड़े भी फाड़ दिए।

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) विधायक के साथ थाने में हुई मारपीट के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ी कार्रवाई की है। सीएम योगी के निर्देश के बाद संबंधित थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही एएसपी (ग्रामीण) का तबादला किया जा रहा है। सीएम योगी ने इस मामले में आईजी अलीगढ़ से कल तक रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए हैं।

वहीं एसओ का कहना है कि विधायक ने ही सबसे पहले हाथ उठाया था। एसओ गोंडा अनुज सैनी का आरोप है कि थाना परिसर में चौकीदार को आते ही गाली दी। उनको ऐसा बोलने से मना किया गया तो वह और अधिक उग्र होते हुए मारपीट की। इस घटना के बाद थाने के बाहर विधायक समर्थकों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई है। तनाव के माहौल के कारण इलाके में आधी दुकानें बंद हो गई हैं। मौके पर उच्चाधिकारी व अन्य विधायक भी पहुंच गए हैं।

बताया जा रहा है कि भाजपा विधायक राजकुमार सहयोगी पार्टी कार्यकर्ता के साथ बीते दिनों हुए झगड़े के मामले में थाने में बातचीत करने पहुंचे थे। इसी दौरान दोनों पक्षों में भिड़ंत हो गई। विधायक ने कार्यकर्ता प्रकरण में रुपए लेकर पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया। भाजपा विधायक राजकुमार ने आरोप लगाते हुए कहा कि कार्यकर्ता का उत्पीड़न किया गया है। उसकी तरफ से दर्ज एफआईआर में गिरफ्तारी न करते हुए पैसा लेकर दूसरे पक्ष की तरफ से मुकदमा दर्ज किया गया। जबकि हमारे कार्यकर्ता व उसके भाई की टांग तोड़ दी गई, सिर फाड़ दिया गया। थाने में पहुंचने पर जब पूछा गया कि आपने ऐसा क्यों किया तो एसओ ने कहा कि किया है और ऐसा ही करेंगे।

वहीं विधायक और पुलिस में भिड़ंत की जानकारी मिलने के बाद पुलिस महकमे में खलबली मच गई है। विधायक समर्थक और भाजपा कार्यकर्ता बड़ी संख्या में थाने के बाद पहुंच चुके हैं और विरोध जता रहे हैं।

You May Also Like

error: ज्यादा चालाक मर्तबान ये बाबू कॉपी न होइए